Skip to content

Ek aasha || hindi poetry || kavita

      एक आशा 

एक आशा की चाह है मुझे आजकल
एक आशा की चाह है मुझे आजकल
क्यों अब तरस रही हैं आंखें मेरी आजकल!!
गया वो ज़माना जब खुद पर हम इतराते थे होकर बे फ़िक्र
गया वो ज़माना जब खुद पर हम इतराते थे होकर बे फ़िक्र
नज़र मैं आते थे हम सबकी जैसे हो एक खिली दोपहर!!
अचानक ये क्या हुआ क्यों लग गयी हमें किसी की नज़र
ग़र्दिशों का अब तो एक मेला हैं जिसमे मुझे चलना अकेला हैं!!
खामोशियाँ अब इतनी बढ़ रही हैं आजकल
कुछ नया पाने की चाह हो रही है मुझे आजकल
वो हंसना हम बूल क्यों गए आजकल
एक ठहराव सा आ गया है ज़िन्दगी मैं आजकल
बस एक आशा की चाह हे मुझे आजकल!!

Sunee@zindagiterenaam.com

Title: Ek aasha || hindi poetry || kavita

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


JA TAN FATWA || Very Sad 2 lines shayari

very sad dard maut shayari 2 lines || Ja tan fatwa jaari karde sadhi maut wala ja lag ja rooh nu la-ilaz koi dukh ho k

Ja tan fatwa jaari karde sadhi maut wala
ja lag ja rooh nu la-ilaz koi dukh ho k



Apne naam kar lunga || Hindi shayari

जहान-ए-दिल पे हुकूमत तुम्हे मुबारक हो
रही शिकस्त तो वो अपने नाम कर लूँगा🙃
तुम्हारी जुल्फ के साये में शाम कर लूँगा
सफ़र इस उम्र का पल में तमाम कर लूँगा❤️
नजर मिलाई तो पूछूंगा इश्क का अंजाम
नजर झुकायी तो खाली सलाम कर लूँग 🙏💯

Title: Apne naam kar lunga || Hindi shayari