Skip to content

Paise kaa dabdbaa hai sab jaga 

 पैसे का दबदबा हैं सब जगह
क्यों पैसे का दबदबा है सब जगह!
काँटों मैं फूलों की खुशबू क्यों सुंगाता है पैसा
पैसा न हो तो परेशानी पैसा हो तो ऊपर वाले की मेहरबानी!!
सब के होश क्यों उड़ाता हैं पैसा
हर ग़म की दवा क्यों बन जाता है ये पैसा!!
न हो तो क्यों इतना तड़पाता है ये पैसा
ये पैसा क्यों हमेशा से है ऐसा!

sunee@zindagiterenaam.com

Title: Paise kaa dabdbaa hai sab jaga 

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Dusri mohabbat || hindi shayari

Mohabbat ho gayi hai shayad 
Mai firse chaand ko pane chala hu
Bhut roya tha ek bar jo krke 
Wahi galti firse dohrane chala hu🍂

मोहोब्बत हो गई है शायद
मैं फिर से चाँद को पाने चला हूँ
बहुत रोया था एक बार जो करके
वही गलती फिर से दोहराने चला हूँ🍂

Title: Dusri mohabbat || hindi shayari


LOONE PANI || Dard Bhare shabad in Pyar

Dard bhare shabad | G Karda teriyaan yaada di tapdi ret vich tur jawan har kadam kadam vich maas chhilawan te naina de loone piniyaan vich khur jawan

G Karda
teriyaan yaada di tapdi ret vich tur jawan
har kadam kadam vich maas chhilawan
te naina de loone piniyaan vich khur jawan