Skip to content

अर्धांगिनी पर कविता

जो दुख में भी साथ देती है
जो मुश्किल हालत में साथ होती है
जो ना छोड़ती है साथ कभी
उसे ही अर्धांगिनी कहते है।
 
जो खुदका घर छोड़ देती है
पति के घर को अपना समझती है
जो रिश्तों को बखूबी निभाती है
उसे ही अर्धांगिनी कहते है।
 
जो आंख बंद कर पति पर विश्वास दिखाती है
तुम हर जंग जीतोगे भरोसा दिलाती है
जो सफलता की हकदार कहलाती है
उसे ही अर्धांगिनी कहते है।
जो हर वचनों को निभाती है
जो सारा जनम पति की बनकर रहती है
जो हाथ पकड़कर चलती है
उसे ही अर्धांगिनी कहते है।
 
जो कभी पत्नि बन जाती है
तो कभी बहू बन जाती है
जो दिलाती है हक पिता बनने का
उसे ही अर्धांगिनी कहते हैं।

Title: अर्धांगिनी पर कविता

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Maan ja meri baat || shayari for girlfriend || naraz shayari

Tu dairy milk si silky jaisi,
Or teri baatein fruit -n-nut.
Maan ja meri baat,
Mat kar mera phone cut.

Title: Maan ja meri baat || shayari for girlfriend || naraz shayari


chahe poori umar mulaakaat || Love hindi shayari

Lamhe yeh suhaane saath ho na ho
kal me aajh jaisi baat ho naa ho
aapka pyar hamesha is dil me rahega
chahe poori umar mulaakaat ho naa ho

लम्हें ये सुहाने साथ हो ना हो,
कल मे आज जैसी बात हो ना हो,
आपका प्यार हमेशा इस दिल में रहेगा,
चाहे पूरी उम्र मुलाकात हो ना हो..

Title: chahe poori umar mulaakaat || Love hindi shayari