Skip to content

बुरा नहीं हूँ मैं। || bura nahi hu mein || sad but true || hindi poetry

हाँ, मैं तीखा बोलता हूँ
सच बोलता हूँ
कड़वा बोलता हूँ
लेकिन, बुरा नहीं हूं मैं।
दिखावे की मीठी बोली नहीं बोलता
पीठ पीछे किसी की शिकायत नहीं करता
मन में दबाकर कोई बैर भाव नहीं रखता
कुंठित विचार नहीं पालता
हाँ, बुरा नहीं हूं मैं।
किसी का बुरा नहीं चाहता
किसी पर छुपकर वार नहीं करता
कभी ह्रदय छलनी हो जाए तो
छुपकर अकेले रो लेता
सबकी मदद दिल से करता
हाँ, बुरा नहीं हूं मैं।
अपनी जिम्मेदारियों से बैर नहीं मुझे
कर्म ही मेरी पहचान है
छलावे के रिश्ते बनाना नहीं आता मुझे
बुरे वक्त में साथ छोड़ना नहीं सीखा मैंने
हाँ, बुरा नहीं हूं मैं।
मौकापरस्त दुनिया ने दिल दुखाया मेरा
फिर भी चुप रहा मैं..
आवाज उठाई कभी जो मैंने
बुरा मान लिया जमाने ने
वक्त नहीं अब मेरे पास इन से उलझने का
हाँ, मैं मौन हूं..
लेकिन,
बुरा नहीं हूं मैं।।

Title: बुरा नहीं हूँ मैं। || bura nahi hu mein || sad but true || hindi poetry

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Dhoka || hindi shayari || sad shayari

दूर हमारी नज़र थी
आँखों के निचे खंजर था… 
और वार करने वाले वो अपने थे
जिनका दिल हमें लगता फूल जैसे सुन्दर था…




Par tainu bhule ni || Love shayari in punjabi

Kise hor lai dil de darwaaze taa
ajh v khule ni
taitho door jaroor haa sajjna
par bhulle ni

ਕਿਸੇ ਹੋਰ ਲਈ ਦਿਲ ਦੇ ਦਰਵਾਜ਼ੇ ਤਾਂ
ਅੱਜ ਵੀ ਖੁੱਲੇ ਨੀ,🙅‍♂️
ਤੈਥੋਂ ਦੂਰ ਜਰੂਰ ਹਾਂ ਸੱਜਣਾ🤲
ਪਰ ਭੁੱਲੇ ਨੀ……❤😘

Title: Par tainu bhule ni || Love shayari in punjabi