Skip to content

Naari || Hindi poetry || true lines

मान लिखूँ सम्मान लिखूँ मैं।
आशय और बखान लिखूं मैं।
जिस नारी पर दुनिया आश्रित,
उसका ही बलिदान लिखूँ मैं।।
जीवन ऐसी बहती धारा,
जिसका प्यासा स्वयं किनारा,
पत्थर पत्थर अश्क उकेरे,
अधरों पर मुस्कान लिखूँ मैं।
मान——
कोमल है कमज़ोर नहीं है,
नारी है यह डोर नहीं है,
मनमर्ज़ी इसके संग करले
इतना कब आसान लिखूँ मैं
मान—-
बेटा हो या बेटी प्यारी,
जन्म सभी को देती नारी,
इसका अन्तस् पुलकित कोमल
इसके भी अरमान लिखूँ मैं
मान—-
हिम्मत से तक़दीर बदल दे,
मुस्कानों में पीर बदल दे,
प्रेम आस विश्वास की मूरत,
शब्द शब्द गुणगान लिखूँ मैं
मान——

Title: Naari || Hindi poetry || true lines

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


udeek teri sajjna || love punjabi shayari || ghaint punjabi shayari

Love punjabi shayari || Hall ta tu kar koi kol aun de
Kar khayal mehboob da ik vaar hun..!!
Udeeka nu v rehndi e udeek teri sajjna
Akhiya v ho jaan Nam baar baar hun..!!
Hall ta tu kar koi kol aun de
Kar khayal mehboob da ik vaar hun..!!
Udeeka nu v rehndi e udeek teri sajjna
Akhiya v ho jaan Nam baar baar hun..!!

Title: udeek teri sajjna || love punjabi shayari || ghaint punjabi shayari


Gallan nhi bhuldiya || Punjabi shayari || two line shayari

Jo dil te lag jawan gallan bas lag jandiya ne
Fir lakh maafiyan mang kade nahio bhulldiyan💯..!!

ਜੋ ਦਿਲ ‘ਤੇ ਜਾਵਣ ਲੱਗ ਗੱਲਾਂ ਬਸ ਲੱਗ ਜਾਂਦੀਆਂ ਨੇ
ਫਿਰ ਲੱਖ ਮਾਫੀਆਂ ਮੰਗ ਕਦੇ ਨਹੀਂਓ ਭੁੱਲਦੀਆਂ💯..!!

Title: Gallan nhi bhuldiya || Punjabi shayari || two line shayari