Skip to content

मंजिल अभी दूर है || hindi shayari || manzil shayari

मंज़िल अभी दूर है, मुसाफिर है बेचैन,
ठोकरें बहुत है राह में,बीत गए वो दिन रैन,
सोचा ना था यूं सौदा करूंगा,
बूंदों सी बारिश में प्यासा चलूंगा,
पसीने से तर है दामन मेरा
कैसे बायां करूं हाल ए दिल अपना के,
कैसे भीगते हैं मेरे नैन,
मंज़िल अभी दूर है, मुसाफिर है बेचैन,

शाम भी बीत गई, सूरज भी ढल गया,
रास्तों पर निकला तो वक्त भी बदल गया,
ठोकरें बहुत खाई अब थोड़ा संभाल गया,
किससे कहूं फिर भी भीगते हैं मेरे नैन,
मंज़िल अभी दूर है, मुसाफिर है बैचेन,

मेरा हिस्सा था जिनमें कुछ लम्हे चुरा लाया हूं,
हर कदम के साथ कुछ करीब आया हूं,
किनारों पर समेटकर कुछ लेहरें लाया हूं,
दो पल ही सही वापस आए वो दिन रैन,
मै ही हूं वो मुसाफिर, मै ही था बेचैन…  

Title: मंजिल अभी दूर है || hindi shayari || manzil shayari

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Ajeeb jeha pyar c ohda || sad but true shayari

Ajeeb jeha pyar c ohda
Na ohne shaddeya menu Na apna bnaya
Galti vi nhi dassi te gunahgaara ch vi ginaya..!!

ਅਜੀਬ ਜਿਹਾ ਪਿਆਰ ਸੀ ਓਹਦਾ
ਨਾ ਓਹਨੇ ਛੱਡਿਆ ਮੈਨੂੰ ਨਾ ਆਪਣਾ ਬਣਾਇਆ
ਗਲਤੀ ਵੀ ਨਹੀਂ ਦੱਸੀ ਤੇ ਗੁਨਾਹਗਾਰਾਂ ‘ਚ ਵੀ ਗਿਣਾਇਆ..!!

Title: Ajeeb jeha pyar c ohda || sad but true shayari


Isha sa hua hai || hindi ishq shayari

kush to hone laga tere karn
ehsaas kush naya hai
ishq sa huaa hai

कुछ तो होने लगा तेरे कारण
एहसास कुछ नया है
इश्क सा हुआ है

Title: Isha sa hua hai || hindi ishq shayari