Skip to content

Mere dost || hindi poetry on dost

मैं ना जानू दोस्त तेरे दूर हो जाने के बाद,
यह जिंदगी कैसे जंग बन गई है।

मैं ना जानू दोस्त तेरे जाने के बाद,
यह गांव की गलियां कैसे सुनी हो गई है।

मैंने जानू दोस्त तेरे जाने के बाद,
वो खेल का मैदान अब सुना लगता है।

मैं ना जानू दोस्त तेरे जाने के बाद,
कैसे फूल जैसी जिंदगी पत्थर बन गई है।

खुद को मनाने की कोशिश करता हूं बहुत,
लेकिन क्या करूं दिल है कि मानता ही नहीं।

मैं ना जानू दोस्त तेरी दूर हो जाने के बाद,
मेरे चेहरे की हंसी कहां गुम हो गई।

मैं ना जानू दोस्त तेरे जाने के बाद,
बाजारों की रौनक भी फीकी लगती है।

तू कब आएगा मेरे भाई मेरे दोस्त,
तेरे को हर दिन गले लगाने का मन करता है।

Title: Mere dost || hindi poetry on dost

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Jano pyare sajjan || sacha pyar shayari || love you❤️

Love you shayari || Sanu sajjan hi jano vadh ke ne
Sanu sajjan hi jano pyare..!!
Sanu sajjan hi khushiyan khede ne
Sanu sajjan hi hanju khare..!!
Sanu sajjan hi jano vadh ke ne
Sanu sajjan hi jano pyare..!!
Sanu sajjan hi khushiyan khede ne
Sanu sajjan hi hanju khare..!!

Title: Jano pyare sajjan || sacha pyar shayari || love you❤️


Sohni hoyi zindagi tere aun naal || sacha pyar shayari || true love

Hoyian rooh nu khushiyan Tenu chahun naal sajjna..!!
Sohni hoyi zindagi tere aun naal sajjna..!!
ki karna eh duniya de sath ton। hun
Asi ta zinda haan ikk tere hon naal sajjna..!!

ਹੋਈਆਂ ਰੂਹ ਨੂੰ ਖੁਸ਼ੀਆਂ ਤੈਨੂੰ ਚਾਹੁਣ ਨਾਲ ਸੱਜਣਾ..!!
ਸੋਹਣੀ ਹੋਈ ਜ਼ਿੰਦਗੀ ਤੇਰੇ ਆਉਣ ਨਾਲ ਸੱਜਣਾ..!!
ਕੀ ਕਰਨਾ ਇਹ ਦੁਨੀਆਂ ਦੇ ਸਾਥ ਤੋਂ ਹੁਣ
ਅਸੀਂ ਤਾਂ ਜ਼ਿੰਦਾ ਹਾਂ ਇੱਕ ਤੇਰੇ ਹੋਣ ਨਾਲ ਸੱਜਣਾ..!!

Title: Sohni hoyi zindagi tere aun naal || sacha pyar shayari || true love