Skip to content

Mohobbat kam na ho payegi || true love Hindi shayari || shayari images

Hindi true love shayari. Best Hindi shayari. Hindi shayari collection. Mohobbat shayari. Hindi shayari images.
Jaan chalk jayegi
Magar mohobbat kam na ho jayegi..!!
Jaan chali jayegi
Magar mohobbat kam na ho payegi..!!

Title: Mohobbat kam na ho payegi || true love Hindi shayari || shayari images

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Kiski dadhi ki aag || akbar birbal kahani

बादशाह अकबर की यह आदत थी कि वह अपने दरबारियों से तरह-तरह के प्रश्न किया करते थे। एक दिन बादशाह ने दरबारियों से प्रश्न किया, “अगर सबकी दाढी में आग लग जाए, जिसमें मैं भी शामिल हूं तो पहले आप किसकी दाढी की आग बुझायेंगे?”

“हुजूर की दाढी की” सभी सभासद एक साथ बोल पड़े।

मगर बीरबल ने कहा – “हुजूर, सबसे पहले मैं अपनी दाढी की आग बुझाऊंगा, फिर किसी और की दाढी की ओर देखूंगा।”

बीरबल के उत्तर से बादशाह बहुत खुश हुए और बोले- “मुझे खुश करने के उद्देश्य से आप सब लोग झूठ बोल रहे थे। सच बात तो यह है कि हर आदमी पहले अपने बारे में सोचता है।”

Title: Kiski dadhi ki aag || akbar birbal kahani


Ek dard aur || hindi dard shayari

बिछड़ते वक्त,एक दर्द और दे गया

दिल में रहा,फिर दिल ही ले गया

अब खाली बादल है, ज़िंदगी मेरी

वो सर्दी गर्मी, सारे मौसम ले गया

यही सोच कर रोता हूं, अक्सर मैं

किस जगह अपने, कदम ले गया

छोटी-छोटी बात,सोचने वाला मैं

क्यूं बड़ा फैसला, एकदम ले गया

तोहफ़े भी लिए, और दिए बहुत

वो खुशी ले गया, मैं गम ले गया

और फिर होतीं रहीं, बारिशे वहां

मैं जहां से भी आंखें, नम ले गया

Title: Ek dard aur || hindi dard shayari