KABIL-E-ILAAZ

C kabil-e-ilaz gam-e-zindagi jisdi talaash c o masiha na mileya dilwale taan kai mile zindagi vich par dil ton koi na mileya

C kabil-e-ilaz gam-e-zindagi
jisdi talaash c o masiha na mileya
dilwale taan kai mile zindagi vich
par dil ton koi na mileya


Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


gulaal kisee ko || Hindi Shayari love

saanche mein kisee aur kee muhabbat ke hamane,
khud ko kabhee dhalane nahin diya,
aankhon ko aaj bhee tera intajaar hai ki gulaal kisee ko malane nahin diya..

साँचे में किसी और की मुहब्बत के हमने, खुद को कभी ढलने नहीं दिया,
आँखों को आज भी तेरा इन्तजार है कि गुलाल किसी को मलने नहीं दिया..

Title: gulaal kisee ko || Hindi Shayari love


ईद के ख़ास मौक़े पर कोई ख़ुदाई से मिले || Pure love hindi shayari

ईद के ख़ास मौक़े पर कोई ख़ुदाई से मिले,
दुश्मन – दुश्मन से मिले भाई – भाई से मिले

दुनियां वालों तुम्हें क्यों जलन होती है अग़र,
मुस्लिम सीख़ से मिले या सीख़ ईसाई से मिले

उस बंटवारे को अल्लाह भी क़बूल नहीं कर्ता,
जो हिस्सा इंसानों को ख़ून की लड़ाई से मिले

ग़ले ज़रूर मिलो मग़र ग़ला काटने के लिए नहीं,
क़ल को क्या पता किसका वक़्त जा बुराई से मिले

ये शायर तेरा आशिक़ है एक ही बात कहता है
हमसे जब भी जो भी मिले दिल की गहराई से मिले

Title: ईद के ख़ास मौक़े पर कोई ख़ुदाई से मिले || Pure love hindi shayari