Skip to content

Nafrat ka bhav || hindi ghaint pyar shayari

नफ़रत का भाव ज्यों ज्यों खोता चला गया,
मैं रफ्ता रफ्ता आदमी होता चला गया।

फिर हो गया प्यार की गंगा से तर बतर,
गुजरा जिधर से सबको भिगोता चला गया।

सोचा हमेशा मुझसे किसी का बुरा न हो,
नेकी हुई तो दरिया में डुबोता चला गया।

कटुता की सुई लेके खड़े थे जो मेरे मीत,
सद्भावना के फूल पिरोता चला गया।

जितना सुना था उतना जमाना बुरा नहीं,
विश्वास अपने आप पर होता चला गया।

अपने से ही बनती है बिगड़ती है ये दुनियां,
मैं अपने मन के मैल को धोता चला गया।

उपजाऊ दिल है बेहद मेरे शहर के लोग,
हर दिल में बीज प्यार का बोता चला गया।...

Title: Nafrat ka bhav || hindi ghaint pyar shayari

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


IK SAAL

Ravaan tediyaan mediyaan chon langhde langhde ik din ghumhi hoi manzil labh jawegi hauli hauli langh gya ik saal bin tere puri zindagi v langh jawegi

Ravaan tediyaan mediyaan chon langhde langhde
ik din ghumhi hoi manzil labh jawegi
hauli hauli langh gya ik saal bin tere
puri zindagi v langh jawegi



Meri toh duniyaa || True love Hindi shayari

Tujhe hak hai apni duniyaa me khushh rehne ka
mera kya..
Meri toh duniyaa hi tu hai

तुझे हक़ है अपनी दुनिया में खुश रहने का..
मेरा क्या..
मेरी तो दुनिया ही तू है..

Title: Meri toh duniyaa || True love Hindi shayari