Skip to content

Oh kamaal aa || Punjabi love poetry

Oh kamaal aa
kamaal aa ohdi sundarta
saada pehraawa
sir te peedha da taaj
sabh kujh hon te v ohde ch hawa nahi
ladhdi aai aa wadhe dukhaa to
rondi hai taa tarasyog lagdi
rakh laindi si shikwa rabb naal v kade
kujh khwahisha lai adhoori aa
maandi har nikki nikki khusi zindagi di
jado hasdi sohne chehre to  saari kayinaat hasdi
lagdi saari duniyaa to pare aa

ਉਹ ਕਮਾਲ ਆ
ਕਮਾਲ ਆ ਉਹਦੀ ਸੁੰਦਰਤਾ
ਸਾਦਾ ਪਹਿਰਾਵਾ
ਸਿਰ ਤੇ ਪੀੜਾ ਦਾ ਤਾਜ
ਸਭ ਕੁਝ ਹੋਣ ਤੇ ਵੀ ਉਹਦੇ ਚ ਹਵਾ ਨਹੀ
ਲੜਦੀ ਆਈ ਆ ਵੱਡੇ ਦੁੱਖਾ ਤੋ
ਰੌਦੀਂ ਹੈ ਤਾ ਤਰਸਯੋਗ ਲਗਦੀ
ਰੱਖ ਲੈਂਦੀ ਸੀ ਸ਼ਿਕਵਾ ਰੱਬ ਨਾਲ ਵੀ ਕਦੇ
ਕੁਝ ਖੁਵਾੲਇਸ਼ਾ ਲਈ ਅਧੂਰੀ ਆ
ਮਾਣਦੀ ਹਰ ਨਿੱਕੀ ਨਿੱਕੀ ਖੁਸ਼ੀ ਜਿੰਦਗੀ ਦੀ
ਜਦੋ ਹੱਸਦੀ ਸੋਹਣੇ ਚਿਹਰੇ ਤੋ ਸਾਰੀ ਕਾਇਨਾਤ ਹੱਸਦੀ
ਲੱਗਦੀ ਸਾਰੀ ਦੁਨੀਆ ਤੋ ਪਰੇ ਆ
G😎

…….. to be continued

Title: Oh kamaal aa || Punjabi love poetry

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


Win them with love || beautiful english quotes

Don’t defeat them with hate
Just win them with love❤️

Title: Win them with love || beautiful english quotes


दूर देश अंजाना || Hindi poetry || love shayari

हवा बहती हुई यूं मदधम सी, गा रही है एक तराना..
मेरे यार का लाई है संदेश, जिसपे नहीं है पता ठिकाना..
उस खत में लिखे हैं शब्द दो ही, अब कैसे जाए पहचाना..
आए तुम्हे जब याद मेरी, तुम प्यार से मुझे बुलाना..
मैं आउंगी ये वादा है, चाहे रोके सारा जमाना..
क्या भूल गई वादा वो अपना, इस गम में है दिल दीवाना..
क्या मै करूँ, चाहता है दिल, करीब उसके अब चले जाना..
मैं रोक नहीं सकता अब उसको, मुश्किल है सब्र कराना..
मैने हवा से की फरियाद के वापस मुझे अपने साथ ले जाना..
मैं आऊं कहां, मेरे यार का पता पुछ के मुझे बताना..
उसकी झलक को हूं मैं तरस गया, बस एक बार दिखला ना..
टालने में वो माहिर है, पर तू करना ना कोई बहाना..
क्यूं नहीं मिलता वो मुझसे, उसे मिलके है पता लगाना..
मुझे जानना है, वो है कहां, उसे क्यूं नहीं है यहां आना..
उसे कहदे मैं न भूलूंगा, चाहे भूले सारा जमाना..
गर वो नहीं आ सकती तो उसे पड़ेगा मुझे बुलाना..
हवा भी हो गई परेशान, वो चाहे मुझे समझाना..
जहां यार मेरा, मैं जा नहीं सकता, है दूर देश अंजाना….

Title: दूर देश अंजाना || Hindi poetry || love shayari