Skip to content

maa shayari

Maa || hindi shayari || true lines

Sab trah ki deewangi se wakif hain hum
Par maa jaisa chahne wala zmane mein koi nhi hai 😇

सब तरह की दीवानगी से वाकिफ हैं हम
पर मां जैसा चाहने वाला जमाने में कोई नहीं है !!😇

True lines || best hindi shayari || maa baap

Mana ke mohabbat buri bhi nahi hai
lekin maa baap se zyada zaruri bhi nahi hai😇✌

माना के मोहोब्बत बुरी भी नहीं है
लेकिन माँ बाप से ज्यादा जरूरी भी नहीं है😇✌

MAA || sad but true lines

Ek daur tha…
Jab bde chaav se tere hath ki roti khata tha mein, maa
Aaj bas bhookh mitane ke liye roti ka niwala todta hu💔

एक दौर था…
जब बङे चाव से तेरे हाथ की रोटी खाता था मैं , माँ
आज बस भूख मिटाने के लिए रोटी का निवाला तोड़ता हूँ 💔
 

Gajal || maa sabse badhi hai

गजल (बे बहर)

 जाने क्या हो गया है कैसी इम्तिहान की घड़ी है,
एक आशिक पे ये कैसी सजा आन पड़ी है!

 आस भी क्या लगाएं अबकी होली पे हम उनसे,
दुनिया की ये खोखली रस्में तलवार लिए खड़ी है!

 मैंने देखें हैं गेसुओं के हंसते रुखसार पे लाली
मगर हमारे चेहरे पे फिर आंसुओं की लड़ी है!

 दर्द है, हिज्र है,और धुंधली सी तस्वीर का साया भी
तुम महलों में रहते हो तुमको हमारी क्यों पड़ी है !!

 कैसे मुकर जाऊं मैं खुद से किए वादों से अभी,
अब मेरे हाथों में ज़िम्मेदारियों की हथकड़ी है!

 तुमको को प्यार है दौलत ए जहां से अच्छा है,
मगर इस जहान में मेरे लिए मां सबसे बड़ी है !!

 

 

Haa maa haa || Maa shayari || love

माँ, हाँ माँ हाँ, मुझे तू चाहिए
ग़म के धरियां में खोया हूँ
तेरा सहारा चाहिए!!
सब ने मुझे ठुकरा दिया हैं
मगर मुझे तू चाहिए!!
तन्हाई ने मुझे डस लिया है
मगर मुझे तू चाहिए!!
वो प्यार, वो एहसास चाहिए
वो प्यार बरी निगाह और वो, तेरे काँधे का सहारा चाहिए!!
ज़िन्दगी तो चल रही है, मगर एक कमी सी हैं,जो दिल में खल्ल रही है
आजा मेरी माँ आजा, क्यों मुझसे तू इतना दूर जा रही है!!!
बहुत याद आती हैं तेरी, बहुत याद आती हैं तेरी, माँ
मरने का जी करता है मेरा, कई बार मरने का जी करता है मेरा
पर हर बार की तरह, क्यों तुम मेरे सिरहाने आ जाती हो माँ
तेरे पास आना है मुझे, बहुत जल्द तेरे पास आना है मुझे,
तुमसे इतनी दूर नहीं अभ जाना है मुझे!!
तुमसे इतनी दूर नहीं अभ जाना है मुझे!!!

Sunee#zindagiterenaam.com

दुआ मॉ की || dua maa ki || zindagi and maa shayari hindi

जिंदगी हाथ पकड़ कर बैठी है
मोत खड़ी हैं झोली फैलाए
खुदा भी कहता होगा मार तोह दूं इसे में
पहले दुआ मॉ की इसकी रास्ते से तोह हट जाये

—ਗੁਰੂ ਗਾਬਾ 🌷

Meri maa || hindi shayari

Ek shaam Mai haar kar main khudh se sawal kar bethi,
Kyun lagti hai zindagi Khatam si
kyun aas koi dikhai nahi deti.
Mann karta hai panchi ban Mai kabhi Aakash Mai ud jaau
Bahot Rahi Mai chup chup kar ab
Ab Khuli hawa Mai lehraau.
Allah meri Duniya Mai ek farishta koi bhej de
Jo cheen liya tha bachpan Mai bas esa hi pyaar bhej de.
Mai fir se khelu Aanchal se mai fir se Bachi ho jaau,
Ay allah Mai thak kar ma ki god Mai so jaau,
Meri zindagi mai mushkile Barish ki tarah aati hai
behti hai baaten maa ki or yaadon ki baadh laati hai,
Kese kahu tere bina maa mera kesa haal hai,
Chal chal kar thak gai mai
Fir bhi na sahi haal hai.
Bina tere ma mujhe koi
Chup krane wala nahi hai,
Mai ro bhi du bilakhkar toh koi gale lgane wala nahi hai.
Kyun tere bina ma hume jina padta hai,
Kyun bin maa ka bacha akele hi zindagi se ladta hai.
Ey Allah meri bas itni c Duaa maan le maa mat karna door kisi ki chahe toh badle Mai tu sara jahan maang le

Maa-baap || life shayari hindi

किसी के पास सब कुछ हो,
तो जलती है दुनियाँ,
किसी के पास कुछ ना हो,
तो हँसती है दुनियाँ,
लेकिन मेरे पास तो मेरे माँ-बाप है,
जिसके लिए तरसती है दुनियाँ! 

Kisi ke paas sab kuchh ho,
to jalti hai duniyan,
kisi ke paas kuchh na ho,
to hansti hai duniyan,
lekin mere paas to mere maa-baap hai,
jisake lie tarsti hai duniyan!