Skip to content

ईद के ख़ास मौक़े पर कोई ख़ुदाई से मिले || Pure love hindi shayari

ईद के ख़ास मौक़े पर कोई ख़ुदाई से मिले,
दुश्मन – दुश्मन से मिले भाई – भाई से मिले

दुनियां वालों तुम्हें क्यों जलन होती है अग़र,
मुस्लिम सीख़ से मिले या सीख़ ईसाई से मिले

उस बंटवारे को अल्लाह भी क़बूल नहीं कर्ता,
जो हिस्सा इंसानों को ख़ून की लड़ाई से मिले

ग़ले ज़रूर मिलो मग़र ग़ला काटने के लिए नहीं,
क़ल को क्या पता किसका वक़्त जा बुराई से मिले

ये शायर तेरा आशिक़ है एक ही बात कहता है
हमसे जब भी जो भी मिले दिल की गहराई से मिले

Title: ईद के ख़ास मौक़े पर कोई ख़ुदाई से मिले || Pure love hindi shayari

Best Punjabi - Hindi Love Poems, Sad Poems, Shayari and English Status


KALA KAFAN

Khushboo teri is hawa ch injh magan aa jiwe raat nu kala kafan sjjaa baitha o gagan aa

Khushboo teri is hawa ch injh magan aa
jiwe raat nu kala kafan sjjaa baitha o gagan aa



Papa ki Yaado Me || hindi shayari

Duniya me aana bhi hey jaana bhi hey,
Daddy aapke bina duniya me rehna bhi hey,
Maa to ho jaati hey akeli jab koi na ho ghar pe saath,
Ek baar to dilado dilasa aap ho humare saath.❤️

दुनियां में आना भी है जाना भी है
डैडी आपके बिना दुनियां में रहना भी है
माँ तो हो जाती है अकेली जब कोई न हो घर पे साथ,
एक बार तो दिला दो दिलासा आप हो हमारे साथ ❤️

Title: Papa ki Yaado Me || hindi shayari