Skip to content

Love shayari in Hindi

Mukammal mohobbat || love hindi shayari

Agar upar wale ki raza na hoti
Hamari tumse mulaqat na hoti
Dekh liya tumhari muskurahat ko
Ab sirf tum tum aur tum jab tak
Mohabbat mukammal na hoti..

Pata nahi kya raaz hai uske chehre ka
Kho jata hoon bus inn nigaah-e-ulfat mein..

Nazar andaaz bhi karna hai aur nazar bhi rakhna hai
Jawaab bhi nahi dena aur kalaam bhi padhna hai
Zubaan pe inkar aur dil mein ikrar rakhna hai
Khairiyat nahi poochni phir bhi khabar rakhna hai
Faisla bhi lena hai aur mere jazbaat ka khayal bhi karna hai
Dil tootne ke baad mera haal bhi gaur karna hai
Bus yahin kuch aadatein aapki pasand hai mujhko..

Meri shikayatein agar mohabbat ki adaalat tak le jaye
Toh main pehli hi tareekh mein muqadma jeet jaun..

Ek khud pasand aashiq
Aur ek usulon wali mehbooba
Dono kaafi hai sukoon tabaah karne ke liye..

कैसे बताऊं तुम्हें ||love hindi shayari

कैसे बताऊं तुम्हे के कौन हो तुम…
हवाओं में फैली है जो खुशबू, उसकी सादगी तुम हो…
मेरी रूह को जो ठंडक दे, वो ताज़गी तुम हो…
सज़दा करू मैं किसका, मेरी दुआओं में तुम,
मेरी वफाओं में तुम, बरसती घटाओं में तुम,
बस तुम ही तुम… तुम हो मेरे आज में मेरे कल में भी तुम,
मेरे हर वक्त में तुम, बस तुम ही तुम…
कैसे बताऊं तुम्हे के कौन हो तुम…
ये धड़कने तुम्हारी है,
मेरे दिल की कीमत समझ लेना,
बिछ जाऊं तुम्हारे क़दमों में,
इसे मेरी मन्नत समझ लेना,
तस्वीर मैं भी हूं तुम्हारी,
मुझे अपनी सीरत समझ लेना…
मेरे साए में भी अब दिखते हो तुम,
कैसे बताऊं तुम्हे के कौन हो तुम…

Ashiqui mein hun marte rahenge || love shayari

Agar ek tarfa hi hum tum pr marte rahenge 
To Jaan esa hum kab tak krte rahenge
Dost bankar rehte hai na dost 
Aashiqui me to hum marte rahenge💔

अगर एक तरफा ही हैं तुम पर मरते रहेंगे
तो जान ऐसा हम कब तक करते रहेंगे
दोस्त बनकर रहते हैं ना दोस्त
आशिक़ी में तो हम मरते रहेंगे💔

Ek roz teri yaad ho jaunga || hindi shayari

Mar ke mitti mein milunga,
Khaad ho jaunga mein.
Phir khilunga saakh par,
Aabaad ho jaunga mein..
Baar baar aaunga tere najar ke saamne,
Aur phir ek roz teri yaad hojaunga mein…

मर के मिट्टी में मिलूंगा
खाद हो जाऊंगा मैं
फिर खिलूंगा साख पर
आबाद हो जाऊंगा मैं
बार बार आऊंगा तेरी नजर के सामने
और फिर एक रोज तेरी याद हो जाऊंगा मैं

Tu na dikhe to || hindi love shayari

Tere wajood ki aahat mujhe Mehsoos hoti hai, 
Kahin bhi rahoon teri Chhahat mujhe Mehsoos hoti hai, 
Naa jane kese Rishta hai tere mere darmiyan, 
Tu na dikhe toh Ghabrahat si Mehsoos hoti hai….💖

तेरे वजूद की आहट मुझे महसूस होती है,
कहीं भी रहूं तेरी चाहत मुझे महसूस होती है,
ना जाने कैसा रिश्ता है तेरे मेरे दरमियां,
तू ना दिखे तो घबराहट सी महसूस होती है..💖

Ye sannata charo aur faila rakha || hindi shayari

Ye sannata jo charo aur faila rakha hai…
Zikar kar do kis baat ki kami hai…🤔
Jism to kya rooh bhi girwi rakh denge teri khushi ki khatir…
Bas bata do in ankhon mein kis baat ki nami hai…❤️

ये सन्नाटा को चारों ओर फैला रखा है…
ज़िक्र कर दो किस बात की कमी है…🤔
जिस्म तो क्या रूह भी गिरवी रख देंगे तेरी खुशी की खातिर…
बस बता दो इन आंखो में किस बात की नमी है…❤️

Tumse dooriyan nhi gawara || hindi shayari

अब फासलों के मुकाम बदल गए हैं ,
इस अनजाने रिश्तों के नाम बदल गए हैं ,
बस अब तुमसे दूरियां नहीं हैं गवारा ,
इश्क़ के कायल हुए हम रह गया अकेला दिल बेचारा …❤️

Ab faslon ke mukam badal gye hain,
Is anjaane rishton ke naam badal gye hain,
Bas ab tumse duriyan nhi hain gawaara,
Ishq ke kayal hue hum reh gya akela dil bechaara…….❤️

CHAHTEIN BADHNE LGI THI TUMSE || love hindi shayari

Chahatein badhne lgi hain tumse milne ke baad,
Din kab gujra ye bhi nhi tha mujhko yaad,
Phir waqt ke namanzuri ne nhi smjhe mere jazbaat,
Kya pta tha vo shaam mein hui thi humari aakhrimulaqat…….

चाहतें बढ़ने लगी हैं तुमसे मिलने के बाद
दिन कब गुज़रा ये भी नही था मुझको याद,
फिर वक़्त के नामंजूरी ने नहीं समझे मेरे जज़्बात,
क्या पता था वो शाम में हुई थी हमारी आखरी मुलाकात…