Skip to content

Khuab shayari

Vo jo sakhas tha || hindi shayari on love

किसी को रफ्ता-रफ्ता चाहा था , अब किश्तों में मरते हैं ।
कैसे कहें अपना हाल-ए-दिल , क्या बताएँ कि हम मोहब्बत करते हैं ।।
ईश्क की सौदेबाजी में , नीलाम हो गई चाहते मेरी ।
नफा-नुकसान के फासलों में , उम्मीद की गुंजाइश ढूँढा करते हैं ।।
ख्वाबों के शहर में , चाहत का एक ख्याल आया ।
कई जवाबों के बाद , संगीन एक सवाल आया ।।
रूखसत किया जिसे , जिसकी पसंद से हमने ।
वो जो शख्स था , मेरी कई इबादतों के बाद आया ।।❤️🍂

Haseen khwaab💝 || hindi shayari

Beechad kar Phir Milenge, Yakeen kitna tha.
Khwaab hi tha magar, Haseen kitna tha..💝 

बिछड़ कर फिर मिलेंगे, यकीन कितना था
ख्वाब ही था मगर, हसीन कितना था.. 💝 

Kitabo ke siwa kuchh nahi || hindi beautiful shayari

Tum jab aaogi khoya hua paogi mujhe 
Mere tanhai me khwabo ke siwa kuchh nahi
Mere kamre ko sajane ki tamanna hai tumhe
Mere kamre me kitabo ke siwa kuchh nahi✨

तुम जब आओगी खोया हुआ पाओगी मुझे
मेरी तन्हाई में ख्वाबों के सिवा कुछ नहीं
मेरे कमरे को सजाने की तमन्ना है तुम्हें
मेरे कमरे में किताबों के सिवा कुछ नहीं✨

Sare khwab tere hai || love hindi shayari

Ham aakhiri saans tak yaar tere hai
Dil par sare ikhtiyar tere hai🥰
Tum aao to neend nahi aati
Neend aaye to sare khwab tere hai😍

हम आखरी सांस तक यार तेरे हैं
दिल पर सारे इख्तियार तेरे हैं🥰
तुम आओ तो नींद नहीं आती
नींद आये तो सारे ख़्वाब तेरे हैं😍

Wo raat || hindi shayari

Wo raat thi kuch khaas si….,
Us raat ki kya baat thi…..,
Wo ishq ki shuruaat thi…..,
Wo theek mere hi pass thi…,
Takra rahi thi saans bhi…..,
Doori bachi thi bas naam ki……
Shabd mere ladkhada rhe the….,
Ashq palkon pe chaa rhe the…..,
Dekhta tha jab main usko , wo ishq seene me laa rhe the….
Wo ankhen palkon se jhaakti….,
Wo hasna uska tha laazmi….,
Ek khwab dekha tha kaafi pehle ,
Shayad wo poora ho aj hi…..
Aj yaad ayii hai uski fir , to Shabdon me bayan kiya……..,
Khwabon aur yaadon ko maine fir sabha me jama kiya……..

Uski raah dekha karte hain || hindi love shayari

Khuda ke bahane uski raah dekha karte hai
Naumeed mein umeed jagane har khuaab mein use dekha karte hai❤

खुदा के बहाने, उसकी राह देखा करते है।।
नाउम्मीद मे उम्मीद जगाने, हर ख्वाब मे उसे देखा करते है।।❤

adhure khwab || hindi sad shayari

Kuch Adhure se khwab yun hi adhure hai aaj
mukkamal se hum kahi na kahi adhure hai aaj
dekh aayna sochte he aaj kya un tute khwab ki tarah hum bhi adhure hai aaj💔

कुछ अधूरे से ख्वाब यूँ ही अधूरे है आज
मुकम्मल से कहीं न कहीं अधूरे हैं आज
देख आईना सोचते हैं आज क्या उन टूटे ख्वाब की तरह हम भी अधूरे हैं आज💔

Sapne || Hindi thoughts || true lines

Har raat roshan hoti hai sitaaro ke sath🍁
Jagane hote hai usse unche unche khwaab🍁

हर रात रोशन होती हय सीतारो के साथ🍁
जगाने होते हय उसे ऊचे ऊचे खवाब🍁