Skip to content

khuda shayari

kuchh kar khuda ki mujhe sabr a jaye….😢

uske ghar ko jati rah par khade hai,

lakeero ko uski tanke khade hai…!

kuchh kar khuda ki mujhe sabr a jaye;

hisse mere mahhobat ya kabr a jaye..!

उसके घर को जाती राह पे खड़े है,

लकीरों को उसकी टांके खड़े है,

कुछ कर खुदा कि मुझे सब्र आ जाती..!

हिस्से मेरे महोब्बत या कब्र आ जाए ..!

Khuda se upar vo || hindi shayari || two line shayari

Maan liya tha jise khuda se upar,
Na milne par uske shikayat ab khuda se kyu!

मान लिया था जिसे खुदा से भी ऊपर,
न मिलने पर उसके शिकायत अब खुदा से क्यों !

जब तक हम तेरे साथ हैं..😌🙏 || zindagi shayari

खुद पर विश्वास हैं तो खुदा तेरे साथ हैं

अपनों पे विश्वास हैं तो दुआ तेरे साथ हैं 

ज़िन्दगी में कभी मत होना उदास मेरे दोस्त 

जब तक हम तेरे साथ हैं..😌🙏

Tu band kamre me roye || Sad Hindi Shayari

  1. तू बंद कमरे में तू बंद कमरे में रोए😰 || maut shayari hindi
तू बंद कमरे में तू बंद कमरे में रोए😰
तेरा अपना कोई करीब ना हो💔
खुदा करे मौत मुझे आए😨
और तुझे मेरी मौत की खबर भी नसीब ना हो💔😱

Tumse pyar karte rahe || Love Hindi Shayari || beautiful lines on love

क्या क्या तेरे नाम लिखूं
दिल लिखूं की जान लिखूं🥀
आंसू चुराके तेरी प्यारी आंखों से
अपनी हर खुशी तेरे नाम लिखूं😍

बसा ले नज़र में सूरत तुम्हारी,
दिन रात इसी पर हम मरते रहें,🥰
खुदा करे जब तक चले ये साँसे हमारी,
हम बस तुमसे ही प्यार करते रहें ॥😘

Khudi ko kar buland itna || beautiful lines || Two Line hindi shayari

Khudi ko kar buland itna ke har takdeer se pehle
Khuda bande se khud puche bata teri raza kya hai 💕🍂

ख़ुदी को कर बुलंद इतना कि हर तक़दीर से पहले
ख़ुदा बंदे से ख़ुद पूछे बता तेरी रज़ा क्या है 💕🍂

judaah Hona nahi manga || true love shayari || mohobbat shayari

Sada milne ki chahat ki, juda hona nhi manga 💕
Humein insan pyare hain, khuda hona nhi manga 🙌
Hmesha mandiron maszid mein Manga hai mohobbat ko ❤️
Kabhi chandi nhi mangi, kabhi sona nhi manga 💯

सदा मिलने की चाहत की, जुदा होना नहीं मांगा💕
हमें इंसान प्यारे हैं, खुदा होना नहीं मांगा🙌
हमेशा मंदिरों मस्जिद में, मांगा है मोहब्बत को❤️
कभी चांदी नही मांगी, कभी सोना नहीं मांगा।💯

Dil-e-bimar || love Hindi shayari || yaad shayari

Yun tasalli de rahe hain hum dil-e-bimar ko
Jis trah thaame koi girti huyi diwar ko
Kuch khatakta to hai pehlu mein mere reh reh kar
Ab khuda jane teri yaad hai ya mera dil ❤️

यूँ तसल्ली दे रहे हैं हम दिल-ए-बीमार को
जिस तरह थामे कोई गिरती हुई दीवार को
कुछ खटकता तो है पहलू में मेरे रह रह कर
अब ख़ुदा जाने तेरी याद है या मेरा दिल ❤️