Skip to content

nazar shayari

Tumhari yaad || Hindi shayari || love shayari

Dinbhar tum yaad aati ho 😍
Har taraf tum hi tum nazar aati ho 🥰
Karte huye tumhe yaad meri ankhein bhar aati hai 🙃
Fir achanak tumhari tasveer meri ankhon ke saamne aa jati hai ❤️

दिनभर तुम याद आती हो😍
हर तरफ तुम -ही-तुम नज़र आती हो;🥰
करते हुए तुम्हे याद मेरी आंखें भर आती है;🙃
फिर अचानक तुम्हारी तस्वीर मेरी आंखों के सामने आ जाती है❤️

Raste par unhe pukarte dekha hai || Hindi shayari || love shayari

Raste par unhe pukarte logo ko maine dekha hai,
Khidki se unhe zulfe sawarte mene dekha hai
Shayad unhe khabar hai unhe meri nazar lagi hai
Unhe aayine pe apna sadka utarne mene dekha hai…❤️

रास्तों पर उन्हें पुकारते लोगो को मैंने देखा है,
खिड़की से उन्हें जुल्फें संवारते मैंने देखा है,
शायद उन्हें खबर है उन्हे मेरी नज़र लगी है,
उन्हें आईने पे अपना सदका उतरते मैंने देखा है…❤️

Yaadein teri || hindi shayari || love sad shayari

बीत गया जो सुनहरा वक्त,
बंद आंखों में ठहरा नज़र आता है…
जिस भी पत्थर पर सर झुकाया ,
बस तेरा चेहरा नज़र आता है…
वो गालों पर हाथ रखना तेरा,
आंखों में आंखें डाल देखना तेरा,
चुभने लगी है वो यादें तेरी,
हर इक लम्हे में अब पहरा नज़र आता है…💔

Tujhse nazrein milayun kaise || love hindi shayari

Tujhse nazrein milayun kaise
Tere pass aayun kaise
Tere pyar mein to kho chuka hu bhut kuch
Ab khud ko bhool jayun kaise
Ye pyas to roz badti hi jati hai
Tujhe ehsaas mein dilayun kaise..!!

तुझसे नज़रे मिलाऊँ कैसे।
तेरे पास आऊँ कैसे।
तेरे प्यार में तो खो चुका हूँ बहुत कुछ।
अब खुद को भूल जाऊँ कैसे।
ये प्यास तो रोज बढ़ती ही जाती है।
तुझे एहसास मैं दिलाऊं कैसे..!!

किसी की नजरों में डूबने जाता हूं || 2 lines shayari

Kisi ki nazro me doobne jaata hu
to samander darwaze tak aa jate hai
किसी की नजरों में डूबने जाता हूं,
तो समंदर दरवाज़े तक आ जाता है...

रखना है तो दिल में रखना

रखना है तो दिल में रखना
इस मोहब्बत भरे चेहरे को,
ये वो चेहरा है जो 
रास्ते पर कभी नजर नहीं आता,
नज़र आते है गुलदस्ते कई
जब गलियों में गुजरता हूं,
मै उन गुलदस्तों के लिए
रास्ते पर कभी नज़र नहीं आता,
नजरबंद कर लेता हूं रास्ते सारे, 
दोस्तों के इंतेज़ार में,
यारों के अलावा रास्तों पर मुझे 
कोई नज़र नहीं आता....

Nazar to Mila || Hindi shayari

Zuban toh khol, najar toh mila, jabab toh de
Mein kitni baar loota hu, mujhe hisab toh de❤️
tere badan ki likhawat me hai utar chadhaw
Mein tujhko kese padhunga, mujhe kitaab toh de….🙃

जुबा तो खोल, नज़र तो मिला,जवाब तो दे
में कितनी बार लुटा हु, मुझे हिसाब तो दे❤️
तेरे बदन की लिखावट में हैं उतार चढाव
में तुझको कैसे पढूंगा, मुझे किताब तो दे🙃