Skip to content

tadap shayari

तलाश लो ये जिस्म मगर || best hindi shayari

तलाश लो ये जिस्म मगर, रूह तक कैसे जाओगे,
छान लो शहर सारा मगर, दर तक कैसे जाओगे,
आओगे जब वापस तो, नज़रें झुकी होगी तुम्हारी
तड़पेगा वो जिस्म ओर तुम, गुनहगार बन जाओगे...

Ankho ankho me || love hindi shayari

Dil tadapta hai nazre preshan hai 
Ek haseen ajnabi hamsafar ke liye❤
Aankho aankho me jane wo kya kah gya 
Chain ab tak nahi lamha bhar ke liye🍁

दिल तड़पता है नज़रें परेशान है
एक हसीन अजनबी हमसफ़र के लिए❤
आंखों आंखों में जाने वो क्या कह गया
चैन अब तक नहीं लम्हा भर के लिए🍁

Intezaar mein nazre || hindi sad shayari

तनहाई तलाश रही मुझको, और मुझे तलाश है बस तेरी..
गर मुमकिन है तो आ जाओ, इंतजार में नजरें हैं मेरी..
इंहे नींद नहीं अब आती है, राहों में टिकी हैं ये तेरी..
यकीन न इनको होता है, के तूने भी आंखें हैं फेरी..
समझाऊं केसे मैं इनको, किस्मत में नहीं है तू मेरी..
जिन आंखों को हैं ये ढूंढ़ रही, बंद हैं वो आंखें तेरी..
जेसे दिल है हार गया मेरा, वैसे हारेगी अब रूह मेरी..
अब थक कर ये सोएंगी जब, होगी जिस्म से जान जुदा मेरी..

Socha tha || hindi shayari || LOVE sad shayari

Socha tha tadpayenge hum unhe,
Kisi aur ka naam leke jalayenge hum unhe,
Fir socha mene unhe tadpaake dard mujhe hi hoga,
To Fir bhala kis trah stayein hum unhe😐

सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें,
किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें,
फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा,
तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।😐

Tadapti rooh || sad hindi shayari

Kuch ghav thik ho rhe hai
kuch par marham lgaya ja rha hai
Par kya btaye ye jhakhm to bahar ke hai
andar se to meri rooh ko tadpaya jarha hai💔

कुछ घाव ठीक हो रहे हैं
कुछ पर मरहम लगाया जा रहा है
पर क्या बताएँ ये ज़ख्म तो बाहर के हैं
अंदर से तो मेरी रूह को तड़पाया जा रहा है💔

Tadap || hindi shayari || sad shayari

Mei apni tadap kuch yun bayan karti hu ki
hum yaha aapse baat karne ko marr rahe hain
aur aap  gumshuda hokar kahin beparwah bethe honge💔💔💔

मैं अपनी तड़प कुछ यूँ बयान करती हूँ
हम यहाँ आपसे बात करने को मर रहे हैं
और आप गुमशुदा होकर कहीं बेपरवाह बैठे होंगे💔💔💔

Haa maa haa || Maa shayari || love

माँ, हाँ माँ हाँ, मुझे तू चाहिए
ग़म के धरियां में खोया हूँ
तेरा सहारा चाहिए!!
सब ने मुझे ठुकरा दिया हैं
मगर मुझे तू चाहिए!!
तन्हाई ने मुझे डस लिया है
मगर मुझे तू चाहिए!!
वो प्यार, वो एहसास चाहिए
वो प्यार बरी निगाह और वो, तेरे काँधे का सहारा चाहिए!!
ज़िन्दगी तो चल रही है, मगर एक कमी सी हैं,जो दिल में खल्ल रही है
आजा मेरी माँ आजा, क्यों मुझसे तू इतना दूर जा रही है!!!
बहुत याद आती हैं तेरी, बहुत याद आती हैं तेरी, माँ
मरने का जी करता है मेरा, कई बार मरने का जी करता है मेरा
पर हर बार की तरह, क्यों तुम मेरे सिरहाने आ जाती हो माँ
तेरे पास आना है मुझे, बहुत जल्द तेरे पास आना है मुझे,
तुमसे इतनी दूर नहीं अभ जाना है मुझे!!
तुमसे इतनी दूर नहीं अभ जाना है मुझे!!!

Sunee#zindagiterenaam.com

Dard bhari aah || gam and sad love shayari

बहती हुई मेरी ये ज़िंदगानी है
कैसे कर दू तुझे कुबूल
बस तेरी मेहरबानी है!!
मोहब्बत तो करते है सभी
मगर हाल ही में ख़तम हुई मेरी एक कहानी है!!
कहानी के किरदार मैं मैंने किसी को खोया है
दर्द भरे इस दिल से मैंने तड़प तड़प के रोया है!!
ग़म के दरिया मैं मैंने गोते भी लगाए हैं
ऐ दोस्त खूब है तू, तुमने मुझे भी जागते हुए सपने दिखाए है!!!

Sunee#zindagiterenaam.com