Skip to content

waqt shayari

Waqt || hindi shayari || two line shayari

Zindagi me kabhi kabhi waqt aisa bhi aata hai gam ko apne andar chupa kar bahar insaan muskurata hai 🙂 

ज़िंदगी में कभी कभी वक़्त ऐसा भी आता है गम को अपने अंदर छुपा कर बाहर इंसान मुस्कुराता है 🥲

वWaqt hai aajh || 2 lines shayari sad

waqt hai aaj, katal kar do mera
kal duaon mujhe nawaza jayega
वक्त है आज, क़त्ल कर दो मेरा,
कल दुआओं मुझे नवाज़ा जाएगा...

AAhat nahi thu || waqt shayari

आहट नहीं थी, सुर्ख़ हवाओं में वक्त ना लगा,
वक्त कम था, वो लम्हा गुजरने में वक्त ना लगा,
मैं वक्त का तकाज़ा ले कर बैठा था
चंद खुशियों के इंतजार में,
मेरा घर टूट के बिखरने में वक्त न लगा...

वक्त और जिंदगी/ vakt or jindgi

Vakt or jindgi ka gjb khel h ,,

Jb jindgii thi, tb kuch krne ko vakt nhi Mila

Jb vakt Mila , to jindgi guzr gyi

वक्त और जिंदगी का गज़ब खेल है,,

जब जिंदगी थी , तब कुछ करने को वक्त नहीं मिला

जब वक्त मिला, तो जिंदगी गुज़र गई।।

Tumne kaha tha hum || Ehsas shayari

Tumne kaha tha hum ek h toh fr ek krdo na .

Kyu hmesha sbkuch bolna padta h kbhi ehsao ko bhi smjho na.

Yu ek h ek h keh kr zindagi kha kat ti h..tum mere ho ye bhi kbhi jtao na..

Chlo aap pass baitho kuch krte h baate ..

Yaad h tumhe ek waqt tha jab tumhare kande pe Kat ti thi meri raate ..

Iraade umeedo ke sakhat lagte ho || hindi shayari

इरादे उम्मीदों के,सख़्त लगते हो

तुम मुझे मेरा,बुरा वक्त लगते हो

होठों पर नज़र,नहीं जाती है क्या

माथा चूम कर,क्यू गले लगते हो

यार लहज़ा ऐसा, क्यूं है तुम्हारा

देखने में,इंसान तो भले लगते हो

तुम्हे क्या पता,दिल कहतें हैं इसे

तुम जो खिलोने, बेचने लगते हो

सच्चा इश्क़ ही तो, मांगा है मैंने 

हर बार ये क्या, सोचने लगते हो

उदास हो कर कहते हैं,अलविदा

जब तुम ये,घड़ी देखने लगते हो

के कुछ पहेलियां भी,समझा करो

तुम मतलब,क्यों पूछने लगते हो

कोई ख्याल बचा कर,रखो भैरव

तुम तो बस,कलम ढूढने लगते हो

Khwab toot te dekha hai || sad but true || sad hindi shayari

Yun hi nhi pahuche is mukaam par
Waqt ke sath logo ko badlate dekha hai 🙃
Mat puchiye humse khawahishon ki keemat
Khwaab dekhne ki umar me unhe toot te dekha hai 💔

यूं ही नही पहुंचे इस मुकाम पर
वक़्त के साथ लोगों को बदलते देखा है 🙃
मत पूछिए हमसे ख्वाहिशों की कीमत
ख्वाब देखने की उम्र में उन्हें टूटते देखा है 💔

Aadat badal gayi hai || true lines || sad but true

Aadat badal gayi hai waqt katne ki 
Ab himmat nahi hoti kisiko dard batne ki…❣️

आदत बदल गयी है वक्त बाटने की,
अब हिम्मत नही होती किसीको दर्द बाटने की…❣️